सीसीटीवी के माध्यम से सामूहिक दुष्कर्म के झूठे प्रकरण का थाना ताल पुलिस ने किया खुलासा झुठी रिपोर्ट करवाने पर फरियादी महिला के विरुद्ध की जाएगी कार्यवाही

सीसीटीवी के माध्यम से सामूहिक दुष्कर्म के झूठे प्रकरण का थाना ताल पुलिस ने किया खुलासा झुठी रिपोर्ट करवाने पर फरियादी महिला के विरुद्ध की जाएगी कार्यवाही

यह खबर पड़े जावरा के पाटीदार मल्‍टी स्‍पेश्लिटी हॉस्पिटल संचालक पर 50 हजार रूपये का जुर्माना अधिरोपित

रतलाम  फरियादी महिला द्वारा बताया कि वह दोपहर 1:00 बजे के करीब मेरे भांजे के साथ बाइक पर ताल आ रही थी इस दौरान रास्ते में बाइक पंचर हो जाने से मेरा भांजा पंचर निकलवाने चला गया मैं वही खड़ी उसका इंतजार कर रही थी। इस दौरान मेरे पास एक सफेद रंग की कार आकर रूकी जिसमे तीन व्यक्ति जुझार सिंह, राजेश सिंह डोडिया एवं कुलदीप सिंह बैठे थे। उन्होंने मुझे घर छोड़ने का बोलकर गाड़ी में बैठा लिया। फिर मुझे अनजान जगह पर ले जाकर मेरे साथ तीनो ने बलात्कार कर मारपीट की तथा जान से मारने की धमकी दी। मरपीट से मैं बेहोश हो गई थी फिर अगले दिन जब मैं होश में आई तो तीनों व्यक्ति मुझे कार में बैठाकर आबूपुरा के पास मगरे पर छोड़कर ये कहते हुए की ये बात किसी को बताई तो जान से मार देगे तीनो वह से भाग गए।

यह खबर भी पड़े  कैबिनेट मंत्री  चैतन्य काश्यप का प्रथम नगर आगमन पर भव्य रूप से आत्मीय स्वागत, अभिनन्दन किया गया

फरियादी की रिपोर्ट पर थाना ताल पर अपराध क्रमांक 573/23 धारा 323,342,366, 376(डी), 506,34 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

 

पुलिस कार्यवाही का विवरण पुलिस अधीक्षक रतलाम  राहुल कुमार लोढा द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतलाम  राकेश खाखा के मार्गदर्शन में एसडीओपी आलोट एवं थाना प्रभारी ताल को मामले की निष्पक्ष, तथ्यात्मक जांच एवं वैधानिक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया।

यह खबर भी पड़े जनपद पंचायत पिपलोदा के अध्यक्ष योगेंद्र सिंह सोलंकी ने ग्राम पंचायत पंचेवा का किया निरीक्षण मौके पर नहीं पाए सचिव

पुलिस टीम द्वारा आरोपी राजेश पिता गोकुल सिंह डोडिया, जुझार सिंह पिता मंगूसिंह पंवार, निवासी टूटीयाखेड़ी जिला उज्जैन को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किए जो न्यायिक अभिरक्षा में लिए गए थे तथा आरोपी कुलदीप सिंह की तलाश की जा रही थी। घटना की सत्यता के बारे जानकारी प्राप्त करने हेतु अग्रिम विवेचना के दौरान घटना स्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरे चेक किए जिसमे फरियादी द्वारा बताए गए घटनाक्रम के संबंधित कोई तथ्य नहीं मिले। फरियादी द्वारा बताई कार के संबंध में जानकारी प्राप्त करने हेतु जावरा शहर के सीसीटीवी कैमरे चेक करने पर उक्त वाहन घटना के समय घटनास्थल से 50 किमी दूर जावरा शहर के सीसीटीवी में दिखाई दी। तीनो आरोपीयो की घटना के समय की उपस्थिति के संबंध में तथ्यात्मक जांच की गई। इस दौरान कुलदीप सिंह के घटना के दिन घर से निकलने तथा शराब की दुकान ग्राम रूपेटा पर जाने, उसके दोस्त के साथ रूपेटा से जावरा जाने के फुटेज सीसीटीवी कैमरे में देखे गए। इसी के साथ कुलदीप सिंह के मोबाइल की लोकेशन आदि तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर भी आरोपी घटनास्थल पर नही होने की पुष्टि हुई।

यह खबर भी पड़े Gold Rate 2023: सोने चांदी कीमतों में देखने को मिली तेजी सोना खरीदने से पहले जाने ले 10 ग्राम सोने का रेट

उक्त प्रकरण के संबंध में विवेचना के दौरान आरोपीयो की मोबाइल लोकेशन, सीसीटीवी कैमरे से मिले फुटेज, साक्षियों के कथन आदि के आधार पर प्राप्त तथ्यों का विश्लेषण करने पर फरियादी द्वारा पंजीबद्ध रिपोर्ट असत्य पाई गई। जिसकी विस्तृत खारजी रिपोर्ट माननीय न्यायालय के समक्ष पेश की गई। माननीय न्यायालय द्वारा उक्त प्रकरण में पुलिस किया प्रस्तुत तथ्यों के आधार पर प्रकरण को खारिज कर पूर्व में गिरफ्तार आरोपियों को उनमोचीत करने की कार्यवाही की जाएगी। झूठी रिपोर्ट करने पर फरियादी महिला के विरुद्ध भी 182/211 सीआरपीसी के अंतर्गत कार्यवाही की जाएगी।

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े
Telegram channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x