28 May 2024

A Bharat live

खबर सबसे पहले

भांजगड़ा प्रथा के नाम पर पैसे के लिए दबाव बनाकर आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार

1 min read

भांजगड़ा प्रथा के नाम पर पैसे के लिए दबाव बनाकर आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार

 

रतलाम  दिनांक 31.12.23 को सूचना मिली कि मन्ना पिता शवजी खाट निवासी कांछला द्वारा घर के सामने खाखरे के पैड पर फांसी लगा ली है जिससे उसकी मृत्यु हो गई हैं सूचना पर थाना रावटी पर मर्ग क्र. 92/23 धारा 174 जा.फौ. कायम किया गया।

यह खबर भी पड़े राज्यपाल महामहिम  मंगु भाई पटेल के प्रस्तावित भ्रमण के दृष्टिगत विधायक एवं कलेक्टर ने स्थल निरीक्षण किया

घटनास्थल का पुलिस एवं फॉरेसिक अधिकारियों दिया निरीक्षण किया गया। पुलिस को मृतक मन्ना खाट द्वारा आत्महत्या करने के पूर्व वायरल किए वीडियो को संज्ञान मे लेकर जांच शुरू की। जांच के दौरान मृतक के परीजनों के कथन लेने पर यह सामने आया की मृतक मन्ना व रुपा बाई पति रमेश मुनिया निवासी बासिन्द्रा का प्रेम प्रसंग था, तथा दोनो घर से भाग गए थे। करीबन 15 – 20 दिन के बाद दोनो वापस आ गए थे। तब भांजगड़ा प्रथा के नाम पर मुन्ना खाट से रमेश पिता गवजी मुनिया, लालु पिता रामा मुनिया व नाथु पिता बाबरिया मुनिया निवासी बासिन्द्रा ने 90 हजार रुपये की अवैध वसूली की थी। भांजगड़ा के नाम पर पैसे देने के बाद पुनः रुपा बाई मन्ना खाट के साथ चली गई। करीबन 1 साल मुन्ना खाट के साथ रहने के बाद फिर वापस अपने पहले पति रमेश के घर आ गई। जिस पर पुनः करीबन डेढ लाख रुपये का भांजगड़ा हुआ था और रुपा बाई वापस रमेश के पास आ गई। रुपा बाई व उसके पति रमेश मुनिया तथा परिवार के लालु मुनिया, नाथु मुनिया निवासी बासिन्द्रा द्वारा मृतक से भांजगड़ा के पैसे लेने की नियत से दबाव बनाने लगे व झुठी रिपोर्ट कर फसाने की धमकी देने लगे। भांजगड़ा प्रथा के नाम पर प्रताड़ित होकर मन्ना खाट फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

यह खबर भी पड़े जावरा मंडी सोयाबीन के साथ गेंहू के भाव में जोरदार उछाल 3200 पार 

पुलिस कार्यवाही  भांजगड़ा के नाम पर हुई घटना की गंभीरता को लेकर पुलिस अधीक्षक रतलाम श्री राहुल कुमार लोढा द्वारा भांजगड़ा के नाम पर प्रताड़ित करने वालो के विरुद्ध कठोर कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया। रावटी पुलिस ने मर्ग जांच पर से अपराध 631/23 धारा 384,306,34 भादवि. अपराध पंजीबद्ध किया गया। आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतलाम श्री राकेश खाखा एवं उप पुलिस अधीक्षक सैलाना श्री ईडला मोर्य के मार्गदर्शन में रावटी थाना प्रभारी प्रकाश गडरिया के नेतृत्व में थाना रावटी की टीम बनाकर आरोपीयों की जानकारी प्राप्त करने हेतु मुखबिर तंत्र सक्रिय किए गए थे । दिनांक 02.01.2024 को विश्वनीय मुखबीर से सुचना मिली कि नाथु पिता बावरिया मुनिया निवासी बासिन्द्रा का उसके खेत नदी तरफ छिपा हुआ हैं । तत्काल थाना प्रभारी प्रकाश गडरिया द्वारा पुलिस टीम बनाकर भेजा जिस पर पुलिस टीम की हिकमत अमली से आरोपी नाथु मुनिया को धर दबोचा बाद पुलिस द्वारा विधिवत गिरफ्तार किया गया।

यह खबर भी पड़े धोखे से बुजुर्ग महिला के सोने की रकम लेकर फरार होने वाला माणकचौक थाना पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

भांजगड़ा एक कुप्रथा है एवम पूर्णतः अवैधानिक है। भांजगड़ा के नाम पर अवैध वसूली करना, लोगो को ब्लैकमेल करना, डराने धमकाने वालो के विरुद्ध रतलाम पुलिस द्वारा अपराधिक प्रकरण दर्ज कर कठोरतम कार्यवाही की जाएगी।

 

गिरफ्तार आरोपी  नाथु पिता बावरिया मुनिया उम्र 47 साल निवासी ग्राम बासिन्द्रा थाना  रावटी।

 

फरार आरोपी  1. रूपा बाई पति रमेश मुनिया निवासी बसिंद्रा

2. रमेश पिता गवजी मुनिया निवासी बसिंद्रा

3. लालू पिता रामा मुनिया निवासी बसिंद्रा

यह खबर भी पड़े मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के निर्देश पर मध्यप्रदेश औद्योगिक विकास निगम के क्षेत्रीय कार्यालय उज्जैन में प्रारंभ हुआ

सराहनीय भूमिका  उक्त सराहनीय कार्य थाना प्रभारी रावटी श्री निरी.प्रकाश गडरिया, उनि रामसिंह खपेड़, आर.475 महेश मैडा, आर. 325 अनिल अमलियार, आर. 634 देवेन्द्र शर्मा आदि एवं थाना रावटी टीम का सराहनीय योगदान रहा

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े
Telegram channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x