24 May 2024

A Bharat live

खबर सबसे पहले

जनसुनवाई में आए 32 आवेदनों के निराकरण के लिए संबंधित विभागों को निर्देश दिए

1 min read
  • जनसुनवाई में आए 32 आवेदनों के निराकरण के लिए संबंधित विभागों को निर्देश दिए

रतलाम  जिला स्तरीय जनसुनवाई मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई। इस दौरान प्राप्त आवेदनों के निराकरण हेतु सीईओ जिला पंचायत  अमन वैष्णव तथा अपर कलेक्टर  आर.एस. मण्डलोई द्वारा संबंधित विभागो के अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

यह खबर पडे MP Free Laptop Yojana 2024 : – इस साल सभी 60% वाले छात्रों को भी मिलेगा लैपटॉप और मिलेंगे ₹25000 की राशि

जनसुनवाई के दौरान ग्राम भदवासा निवासी गोपाल पुरी ने आवेदन देते हुए बताया कि प्रार्थी द्वारा अपनी 10 बीघा कृषि भूमि में लहसुन की फसल बोई गई थी। फसल के लिए दवाई कोको, ट्यूबिक, सुपर जाईम, अमोर स्टार, चिलिमन, टोपवेट नामली स्थित दवाई दुकान से खरीदी जाकर उसका उपयोग फसल पर किया गया था। उपयोग करने के बाद लहसुन की फसल पूर्णतः नष्ट हो गई, जिसकी सूचना उपसंचालक किसान कल्याण कृषि विकास विभाग को दी गई थी। उक्त घटना के बाद आज दिनांक तक किसी अधिकारी द्वारा निरीक्षण नहीं किया जाकर जांच नहीं की गई जिससे प्रार्थी आर्थिक नुकसान का सामना करना पडा है। आवेदन निराकरण के लिए कृषि विभाग को प्रेषित किया गया है।

 

ग्राम एवरिया निवासी भेरुलाल ने जनसुनवाई में बताया कि प्रार्थी द्वारा शासन की संबल योजना अन्तर्गत आवेदन किया था। 28 दिसम्बर 2022 को पत्नी का देहान्त हो जाने के बाद संबल राशि की प्राप्ति हेतु प्रार्थी द्वारा आवेदन दिया गया परन्तु कोई कार्यवाही नहीं की गई। बैंक में बात करने पर पता चला कि राशि आई थी परन्तु वापस लौट गई है। कृपया प्रार्थी को संबल राशि प्रदान की जाए। आवेदन निराकरण के लिए जनपद पंचायत को भेजा गया है। पिपलियाजोधा निवासी गंगाबाई कुमावत ने आवेदन देते हुए बताया कि प्रार्थिया के पति मा.शि. क.मा.वि. ढोढर में जनशिक्षक के पद पर पदस्थ थे, जिनकी मृत्यु 18 जनवरी 2021 को हो चुकी है। पति की मृत्यु पश्चात भी उनका एन.पी.एस. का भुगतान बकाया है, कृपया भुगतान करवाने का कष्ट करें। आवेदन निराकरण के लिए जिला शिक्षा अधिकारी को भेजा गया है।

यह खबर पडे Ayushman Card से लोगों को मिलता है 5 लाख तक मुफ्त इलाज, सरकार ने जारी किया नया पोर्टल 

बांगरोद निवासी छगनलाल परिहार ने जनसुनवाई के दौरान आवेदन देते हुए बताया कि प्रार्थी का मकान कच्चा बना हुआ है। मकान के समीप ही पक्की रोड और आसपास पक्के मकान बने होने से बारिश का पानी प्रार्थी के घर में घुस जाता है जिससे काफी परेशानियों का सामना करना पडता है। प्रार्थी द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना हेतु आवेदन भी किया जा चुका है परन्तु अभी तक आवास का लाभ प्राप्त नहीं हुआ है। कृपया आवास का लाभ प्रदान किया जाए। आवेदन निराकरण के लिए संबंधित विभाग को प्रेषित किया गया है।

 

जनसुनवाई में गंगाराम निवासी पिपलिया सिसोदिया ने शिकायत में बताया कि उसको शासन द्वारा प्रदत्त पटटे की भूमि पर गांव के एक अन्य व्यक्ति द्वारा कब्जा कर लिया गया है और गाली गलौज तथा मरने मांरने की धमकी देता है। आवेदन एसडीएम आलोट की ओर आवश्यक कार्रवाई के लिए प्रेषित किया गया। इसी तरह रतलाम के काजू नगर निवासी श्रीमती मीना मित्तल द्वारा आवेदन दिया गया कि उनके स्वामित्व की भूमि को अवैध कॉलोनी की भूमि के रूप में दर्ज कर दिया गया है। सुधार हेतु आवश्यक कार्रवाई की जाए, साथ ही जिला पंजीयक की स्टांप एवं ड्यूटी कार्यालय में उसकी भूमि के विक्रय करने पर लगी रोक हटाई जाए। आवेदन एसडीएम रतलाम शहर को प्रेषित किया गया। जनसुनवाई में ग्राम सरसी के दिलीप कुमार खारोल द्वारा प्रधानमंत्री आवास की मांग की गई जो एसडीएम जावरा को प्रेषित किया गया।

 

 

 

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े
Telegram channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x