24 May 2024

A Bharat live

खबर सबसे पहले

टिन शेड पर व्यापारियों द्वारा रखे माल को लेकर भी किसानों व्यापारियों में हुई तकरार देखिए किस मंडी में हुई विवाद

1 min read

पीपलोदा शनिवार व रविवार के अवकाश के बाद सोमवार को सुबह ग्यारह बजे उपमंडी कार्यालय से ध्वनि विस्तारक यंत्र से नीलामी बोली लगाने हेतु घोषणा की गई जैसे ही व्यापारीगण नीलामी बोली लगाने हेतु टिन शेड के पास पहुंचे वैसे ही वहां पर उपस्थित किसानों ने किसान नेता दिलीप पाटीदार के नेतृत्व में टिन शेड पर व्यापारियों द्वारा रखे गए जींस को लेकर व्यापारियों से तकरार हो गई स्थिति थी को देखते हुए उपमंडी प्रभारी सुशील रावतिया व अन्य कर्मचारी भी टिन शेड पर पहुंच गए उन्होंने किसानों की फसल नीलामी हेतु बात कही उसके पूर्व ही किसानों और व्यापारियों के बिच बहस होने के साथ ही सभी व्यापारी नीलामी बोली नहीं लगाते हुए टिन शेड से निचे उतर कर खुलें मैदान में चलें गये ज्ञात रहे किसान नेता दिलीप पाटीदार का कहना था कि बारिश के मौसम में किसानों के जींसों की बोली उपमंडी प्रांगण पर व्यापारियों द्वारा खुलें मैदान में लगाईं जा रही है जबकि उपमंडी में बना टिन शेड किसानों के लिए है न कि व्यापारियों के खरीदें हुए माल के लिए है पाटीदार ने बताया कि चार दिन पूर्व ही उपमंडी प्रभारी सुशील रावतिया सहित कर्मचारियों को टिन शेड से व्यापारियों का माह हटाने के लिए अवगत कराया गया था किन्तु शनिवार व रविवार अवकाश होने के बाद भी टिन शेड से व्यापारियों का माल नहीं हटना उपमंडी के कर्मचारीयों के साथ व्यापारियों में सांठगांठ की बू नज़र आ रही है जबकि उपमंडी प्रभारी सुशील रावतिया का कहना था कि ऐसा कुछ नहीं है व्यापारियों के लिए गोदाम व दुकानें निर्माण नहीं होने के साथ एक ही टिन शेड होने से यह स्थिति निर्मित हो रही है वैसे टिन शेड पर व्यापारियों द्वारा रखे माल को हटाने के लिए व्यापारियों को नोटिस जारी कर दिया गया है फिर भी किसानों और व्यापारियों के बिच बारिश के मौसम को लेकर सामान्यजस रखने के लिए व्यापारियों को अवगत कराया गया है कि शाम को अपना खरीदा हुआ माल टिन शेड से हटाले जींस कारण किसानों को सुबह टिन शेड पर अपनी फसल रखने में परेशानी ना हो व व्यवस्थित रूप से किसानों के जींस की नीलामी हो सकें ज्ञात रहे इस अवसर पर किसानों द्वारा उपमंडी प्रभारी सुशील रावतिया को एक ज्ञापन सौंपा गया जिसमें अवगत कराया गया की टिन शेड पर व्यापारियों द्वारा रखे माल को दो दिन में हटा जाएं ज्ञात रहे किसानों एवं व्यापारियों में आपसी तकरार के कारण किसानों के जींस की नीलामी एक घंटे विलम्ब से चालू हुई

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े
Telegram channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x