19 May 2024

A Bharat live

खबर सबसे पहले

Ratlam खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने खाद्य पदार्थों के नमूने लिए गए

1 min read

Ratlam खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने खाद्य पदार्थों के नमूने लिए गए

 

 

रतलाम शासन के मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत जांच दल द्वारा गत दिवस रतलाम में न्यू रोड़ स्थित सर्वानंद सुपर बाजार पर कार्यवाही करते हुए सर्वानंद केरी अचार, गेहूं का आटा, सर्वानंद बारिक सौंफ, सर्वानंद राकेश मसाले, काली मिर्च पैक एवं चना दाल के नमूने प्राप्त किए।

 

सभी नमूने जांच हेतु भोपाल स्थित राज्य खाद्य प्रयोगशाला भेजे जाएंगे। जांच रिपोर्ट प्राप्त होने पर वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। मौके पर सुधार सूचना नोटिस जारी किया गया। कार्यवाही खाद्य सुरक्षा अधिकारी ज्योति बघेल, प्रीति मंडोरिया एवं नापतौल सहायक नियंत्रक श्री नसीम खान द्वारा की गई, कार्रवाही निरंतर जारी रहेगी।

यह खबर भी पड़े। : खेत पर पशुओं को चारा डालने गई महिला को अकेला पाकर दो युवकों ने किया दुष्कर्म

उपभोक्ता टोल फ्री नंबर 1800112100 और सी.एम. हेल्पलाइन नंबर 181 पर कर सकते हैं शिकायत

 

आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं नियंत्रक डॉ सुदाम खाड़े ने बताया कि मिलावट पर रोकथाम के लिए प्रदेश व्यापी अभियान चलाया जा रहा है। अभियान में जिला स्तर पर खाद्य सुरक्षा विभाग, खाद्य नागरिक आपूर्ति, नापतौल, पुलिस, राजस्व, दुग्ध संघ आदि विभागों की संयुक्त टीम बनाकर नियमित निरीक्षण एवं कार्यवाही के निर्देश दिये गये हैं। अभियान में संवेदनशील क्षेत्र का चिन्हांकन कर नियमित जांच और सर्विलेंस प्लान तैयार कर प्रभावी कार्यवाही की जायेगी। आयुक्त डॉ खाड़े ने आमजन से मिलावट के प्रति सतर्क रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि उपभोक्ता मिलावट की शिकायत टोल फ्री नंबर 1800112100 एवं सी.एम. हेल्पलाइन नंबर 181 पर कर सकते हैं ।

यह खबर भी पड़े। : देवास में मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत नमूना लेने एवं निरीक्षण की कार्यवाही लगातार जारी

मिलावटी खाद्य पदार्थ के निर्माण में लिप्त प्रतिष्ठानों पर की जायेगी कठोर कार्यवाही

आयुक्त डॉ खाड़े ने बताया कि चलित खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला, मैजिक बॉक्स के माध्यम से स्कूल, कॉलेज के छात्र-छात्राओं को खाद्य पदार्थों में मिलावट की जांच करने संबंधी प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रत्येक विद्यालय में खाद्य सुरक्षा जागरूकता के लिए विद्यार्थियों का हेल्थ क्लब गठित किया जाएगा। आंगनवाड़ी केन्द्रों, स्कूलों के मध्याह्न भोजन खाद्य सामग्री की जाँच मैजिक बॉक्स, चलित खाद्य प्रयोगशालाओं के माध्यम से की जाएगी। अभियान में लायसेंस रजिस्ट्रेशन की जांच, मिलावटी खाद्य पदार्थ के निर्माण में लिप्त प्रतिष्ठानों पर जप्ती, सीलिंग की कार्यवाही की जाएगी।

मिलेट आधारित भोजन को प्रोत्साहन

चलित खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला से दूध, दुग्ध उत्पाद के नमूनों, खाद्य तेल एवं मसालों की अधिकतम जांच, समस्त क्षेत्रों विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में जनजागरूकता कार्यक्रम किये जायेंगे। मिलेट आधारित भोजन के प्रोत्साहन तथा उपयोग को बढ़ावा दिये जाने के उद्देश्य से मिलेट मेले का आयोजन किया जाएगा। शहरी क्षेत्रों के अतिरिक्त ग्रामीण क्षेत्रों में भी ईट-राइट गतिविधियाँ तथा जनजागरूकता अभियान विभिन्न विभागों के सामंजस्य सेड आयोजित किए जाएँगे।

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े
Telegram channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x