28 May 2024

A Bharat live

खबर सबसे पहले

सार्थक एप के माध्यम से उपस्थित दर्ज करने के संबंध में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की बैठक आयोजित

1 min read

सार्थक एप के माध्यम से उपस्थित दर्ज करने के संबंध में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की बैठक आयोजित

 

यह खबर भी पड़े गांव हतनारा में स्वच्छ भारत अभियान की उड़ रही है धज्जियां जवाबदार लापरवाह स्वच्छता के बड़े-बड़े वादे इस गांव में आए खोखले नजर

देवास जिले में स्वास्थ्य विभाग के नियमित एवं संविदा पद पदस्‍थ चिकित्सक, अधिकारी-कर्मचारी सभी को 01 जनवरी से ‘’साथर्क एप’’ के माध्यम से उपस्थिति दर्ज करना अनिवार्य है। कुछ चिकित्सक और कर्मचारी द्वारा सार्थक एप के माध्यम से उपस्थित दर्ज नहीं करने पर सीएमएचओ डॉ विष्‍णुलता उईके ने सभी सेक्शन के नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर निर्देश दिए की शतप्रतिशत कर्मचारियों की उपस्थित सार्थक एप के माध्यम से दर्ज हो।

यह खबर भी पड़े किसान क्रेडिट कार्ड योजना :सरकार की तरफ से पशुपाल वालो को बड़ा तोहफा,पशुपाल वालो को मिलेगा 1.6 लाख लोन

सीएमएचओ विष्णुलता उईके ने निर्देश दिए कि शासन के निर्देशानुसार विभाग के सभी शासकीय सेवक पहले सार्थक एप के माध्यम से उपस्थित दर्ज करे, अगर कही समस्या आ रही तो हमे अवगत कराए। हमारे द्वारा वरिष्ठ स्तर पर शासन को समस्या से अवगत कराया जाएगा और जो भी एप में कमियां नेटवर्क और उपस्थिति की आ रही दूर की जायेगी।

यह खबर भी पड़े मुख्य मंत्री मोहन यादव ने 1 करोड़ 32 लाख बहनों के खातों में डाली किस्त जल्दी चेक करे नाम

बैठक में कर्मचारियों ने बताया कि फील्ड कर्मचारी एप से अपनी अटेंडेंस नहीं लगा पा रहे हैं। ऑफिस के कर्मचारी तो अटेंडेंस लगा पा रहे, लेकिन फील्ड के कर्मचारियों की नहीं लग रही। फील्ड में नेटवर्क सहित कई समस्याओं की बात सामने रखी गई। ज्यादातर स्टाफ फील्ड में कार्यरत है। ऐसे में उनके सामने समस्या रहती है। सार्थक एप से अटेंडेंस नहीं लग पाती है, ऐसे में अटेंडेंस छूट जाती है। हम चाहते हैं कि जहां से कार्य खत्म हो वहीं से हमारा लॉग आउट हो जाए। कर्मचारियों का कहना है कि एप के माध्यम से अटेंडेंस में कमियों है, जिन्हें दूर करना चाहिए।

रिपोर्टर :- साजिद पठान

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े
Telegram channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x