24 May 2024

A Bharat live

खबर सबसे पहले

पंकज कुमार सिंह सहायक कमांडेंट के नेतृत्व में पिपलोदा शहर के विभिन्न मार्गो से RAF ने निकाला फ्लैग मार्च,

1 min read

पंकज कुमार सिंह सहायक कमांडेंट के नेतृत्व में पिपलोदा शहर के विभिन्न मार्गो से RAF ने निकाला फ्लैग मार्च,

यह भी खबर पड़े पिपलोदा कलेक्टर भास्कर लक्षाकार ने राजस्व न्यायालयो, जनपद तथा स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया

पिपलौदा/केन्द्रीय गृहमंत्रालय भारत सरकार के आदेशानुसार रेपिड एक्शन फोर्स डी/107 बटालियन की एक प्लाटून जगदीश प्रसाद बलाई कंमाण्डेंट के निर्देशानुसार पंकज कुमार सिंह सहायक कमाण्डेन्ट के नेतृत्व में दिनाँक 17 दिसम्बर से 23 दिसम्बर तक रतलाम जिले के सभी थानों में जाकर परिचय अभ्यास कराया जा रहा है। पंकज कुमार सिंह के द्वारा यह जानकारी दी गई। इस दौरान प्लाटून की नफरी राजपत्रित अधिकारी-.01, अधिनस्थ अधिकारी-09 अन्य सैनिक-32 कुल-42 उपस्थित है।

यह भी खबर पड़े OnePlus 12 smartphone: इस मोबाइल में मार्केट में मजा रखी है धूम इसके फीचर्स और दमदार कैमरा क्वालिटी के साथ

रैपिड एक्सन फोर्स के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि फोर्स का गठन दिनांक 07/10/1992 को किया गया। भारत सरकार द्वारा रैपिड एक्शन फोर्स का गठन करने का उददेश्य दंगा या दंगो जैसी परिस्थितियों से निपटने के लिए किया गया है, जो की कम से कम समय में दंगो वाली जगह पर पहुँच कर परिस्थितियों को देखते हुए परिस्थिति के अनुरूप कार्य करके परिस्थितियों से निपटा जा सके। इस लिए रैपिड एक्शन फोर्स की एक कंम्पनी को प्रत्येक दिन तीव्र प्रतिवाचन के लिए तैनात किया जाता है ताकि किसी भी जिले में किसी प्रकार की आकस्मिक घटना होने पर घटना वाले स्थान पर तुरन्त पहुँचा जा सके। रैपिड एक्सन फोर्स की 15 बटालियन भारत के विभिन्न प्रदेशो में अलग-अलग जिलो में तैनात है। वर्तमान में 107 बटालियन रैपिड एक्शन फोर्स को जिला- रायसेन (मध्यप्रदेश) में कानून व्यवस्था के लिए तैनात किया गया है।

यह खबर भी पड़े Ratlam कोविड-19 के वर्तमान परिदृश्य में नवीन वेरिएंट जे.एन.1 के संबंध में एडवाइजरी जारी

रैपिड एक्शन फोर्स के इस परिचय अभ्यास के आयोजन की जानकारी देते हुए पंकज कुमार सिंह सहा०कमा० ने बताया कि परिचय अभ्यास के दौरान रतलाम जिले की भौगोलिक, सामाजिक, धार्मिक, राजनैतिक इत्यादि जानकारियां एकत्रित करना तथा क्षेत्र की जनसंख्या, साक्षरता दर, असमाजिक तत्वो, सामुदायिक दृष्टि से संवेदनशील/अतिसंवेदनशील ईलाको तथा बलवाईयो/दंगाईयों की सूची तैयार की जायेगी, ताकि भविष्य में किसी प्रकार की कोई घटना या साम्प्रदायिक तनाव एवं दंगा की स्थिति निर्मित होने पर और किस प्रकार से उस पर नियंत्रण किया जाये आदि सभी का गहन अध्ययन किया जायेगा। बल के जवानों द्वारा थाना पिपलोदा क्षेत्रों का परिचंय अभ्यास किया गया तथा संवेदनशील इलाको में फ्लैग मार्च किया गया। इस परिचय अभ्यास का उददेश्य जिले के सिविल प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के साथ सामंजस्य बनाकर विपरीत परिस्थितियों में कार्य करना है। जिससे आम जनमासन में प्रशासन एवं पुलिस पर विश्वास बना रहे। द्रुत कार्य बल (RAF) के कार्य करने के प्राथमिक तथा द्वितीय टास्क होते है।107 बटालियन का प्राथमिक टास्क में मध्यप्रदेश के सभी जिले आते है और यह बल केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल का एक अभिन्न अंग है। जिसका नाम रैपिड एक्शन फोर्स के नाम से प्रसिद्ध हैं,107 बटालियन के प्लाटून के सदस्यों द्वारा राजनैतिक दलों समाजसेवी संगठनो व जीवन रक्षक संस्थानो की भी जानकारी प्राप्त की जायेगी।107 बटालियन द्वारा सभी क्षेत्रो का मानचित्र भी बनाया जायेगा। जिसका उददेश्य अप्रिय स्थिति उत्पन्न होने पर इस पर नियंत्रण के लिए नियत स्थल पर तत्काल पहुँचने में सुविधा हो।

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े
Telegram channel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x